Subscribe for Newsletter
» माता पिता की सेवा बिना जीवन व्यर्थ 

माता पिता की सेवा बिना जीवन व्यर्थ

 
माता पिता की सेवा बिना जीवन व्यर्थInformation related to माता पिता की सेवा बिना जीवन व्यर्थ.

 जो व्यक्ति अपने माता-पिता की सेवा नहीं करते हैं, उनका जीवन व्यर्थ है। जैसा कि गुरु और भगवान का आशीष फलता है उसी प्रकार माता-पिता का आशीर्वाद भी फलता है।

यदि आप अपने बेटे को श्रवण कुमार बनाना चाहते हैं तो अपने पति को भी इसकी शिक्षा दें। श्रवण कुमार का बेटा ही श्रवण कुमार हो सकता है। उन्होंने चार प्रकार के पुत्रों के बारे में बताया- अतिजात-जो अपने कुल के गौरव को बढाता है, अनुजात-जो कुल के गौरव को स्थिर रखता है,अवजात-जो कुल के गौरव को घटाता है एवं कुलागां-जो कुल की कीर्ति को नष्ट करता है। सद्गुरु कृपा से ही भक्ति संभव भक्त के हृदय में केवल भगवान ही बसा रहता है।

भक्ति केवल भगवान को जानकर ही शुरू होती है, जो सद्गुरु की कृपा से ही संभव है।  इंसानों को मन के वशीभूत होकर गलत रास्ते पर नहीं चलना चाहिए, क्योंकि अंतकाल में सारा लेखा उन्हें ही लेकर जाना होगा। वर्तमान हालात पर प्रतिक्त्रिया व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि आज इंसान अपने दुखों से कम दूसरे के सुख को देखकर अधिक दुखी होता है।

Like this Post :
Comment
 
Name:
Email:
Comment:
Posted Comments
 
"Really true and nice thought "
Posted By:  Rohit
 
"बहुत ही उत्तम विचार है । पर जिस दिन संतानो को इस बात का को ज्ञान होगा की मात पीता के चरणों में ही स्वर्ग है, तो वह कभी बीही दुखी नहीं होंगे ।"
Posted By:  nitin sarvaiya
 
"thanks"
Posted By:  AMARJEET KUMAR PATEL
 
"very good."
Posted By:  Poojya Guruji ShriSuryabhan ji Maharaj
 
"Supper Ati Sunder Bat kai Aap Ne "
Posted By:  Narayan Upadhya
 
"An answer from an exrpet! Thanks for contributing."
Posted By:  Chetna
 
Upcoming Events
» , 23 November 2018, Friday
» , 3 December 2018, Monday
» , 7 December 2018, Friday
» , 12 December 2018, Wednesday
» , 19 December 2018, Wednesday
» , 1 January 2019, Tuesday
Prashnawali

Ganesha Prashnawali

Ma Durga Prashnawali

Ram Prashnawali

Bhairav Prashnawali

Hanuman Prashnawali

SaiBaba Prashnawali
 
 
Free Numerology
Enter Your Name :
Enter Your Date of Birth :
 
Dream Analysis
Dream
  like Wife, Mother, Water, Snake, Fight etc.
 
Copyright © MyGuru.in. All Rights Reserved.
Site By rpgwebsolutions.com