Saphala Ekadashi Vrat

Saphala Ekadashi Vrat
This year's Saphala Ekadashi Vrat

Thursday, 30 Dec - 2021

Saphala Ekadashi Vrat in the Year 2021 will be Celebrated on Thursday, 30th December 2021

सफला एकादशी के दिन श्री हरि के विभिन्न नाम-मंत्रों का उच्चारण करते हुए फलों के द्वारा उनका पूजन करें। धूप-दीप से देव देवेश्वर श्री हरि की अर्चना करें। सफला एकादशी के दिन दीप-दान जरूर करें। 

रात को वैष्णवों के साथ नाम-संकीर्तन करते हुए जगना चाहिए। एकादशी का रात्रि में जागरण करने से जो फल प्राप्त होता है, वह हजारों वर्ष तक तपस्या करने पर भी नहीं मिलता। व्रत विधान के विषय में जैसा कि श्री कृष्ण कहते हैं दशमी तिथि को शुद्ध और सात्विक आहार एक समय लेना चाहिए। इस दिन आचरण भी सात्विक होना चाहिए, व्रत करने वाले को भोग विलास एवं काम की भावना को त्याग कर नारायण की छवि मन में बसाने हेतु प्रयत्न करना चाहिए। 

एकादशी तिथि के दिन प्रात: स्नान कर शुद्ध वस्त्र धारण कर माथे पर श्रीखंड चंदन अथवा गोपी चंदन लगाकर कमल अथवा वैजयन्ती फूल, फल, गंगा जल, पंचामृत, धूप, दीप, सहित लक्ष्मी नारायण की पूजा एवं आरती करें। संध्या काल में अगर चाहें तो दीप दान के पश्चात फलाहार कर सकते हैं। द्वादशी के दिन भगवान की पूजा के पश्चात कर्मकाण्डी ब्राह्मण को भोजन करवा कर जनेऊ एवं दक्षिणा देकर विदा करने के पश्चात भोजन करें। 

जो भक्त इस प्रकार सफला एकादशी का व्रत रखते हैं व रात्रि में जागरण एवं भजन कीर्तन करते हैं उन्हें श्रेष्ठ यज्ञों से जो पुण्य मिलता उससे कहीं बढ़कर फल की प्राप्ति होती है।

 
 
 
 
 
UPCOMING EVENTS
  Shattila Ekadashi Vrat, 28 January 2022, Friday
  Somvati Amavasya, 31 January 2022, Monday
  Mauni Amavasya, 31 January 2022, Monday
  Gupt Navratri, 2 February 2022, Wednesday
  Vasant Panchami, 5 February 2022, Saturday
  Ratha Saptami, 7 February 2022, Monday
 
Comments:
 
 
Find More
Copyright © MyGuru.in. All Rights Reserved.
Site By rpgwebsolutions.com