Subscribe for Newsletter
पति पत्नी में अनबन है करें ये उपाय

ज्योतिष शास्त्र में गृह कलह के यूं तो बहुत सारे कारण होते हैं लेकिन ज्योतिष एवं वास्तु की दृष्टि से गृह कलह ग्रहों के दोषपूर्ण या अशुभ दशा होने अथवा भवन में एक या अनेक वास्तु दोष होने से भी गृह कलह उत्पन्न होने की आशंका बनी रहती है।

संभावित गृह कलह के निवारण के लिए वर-कन्या के विवाह से पहले अगर सही तरीके से कुंडली में गुणों का मिलान करवा लिया जाए तो अच्छा रहता है। ज्योतिष शास्त्रों में उल्लेखित है कि मंगल, शनि और राहु ग्रहों के विभिन्न भावों में बैठे होने से उन भावों से संबंधित रिश्तों में मतभेद और कलह देखा जा सकता है।इसके निवारण के लिए उस दोषपूर्ण ग्रह से संबंधित वस्तुओं का दान, मंत्र जप, पूजा-पाठ, रत्न या रुद्राक्ष धारण करने से भी लाभ मिलता है।

जानते हैं आजमाए हुए अचूक उपाय-

  • घर-परिवार में सुख-शांति और प्रेम भाव बनाए रखने के लिए भोजन बनाते समय सबसे पहली रोटी के, बराबर चार टुकड़े करके एक गाय को, दूसरा काले कुत्ते को, तीसरा कौए को खिलाना चाहिए तथा चौथा टुकड़ा किसी चौराहे पर रख देना चाहिए।
  • प्रतिदिन सुबह उठते ही बिस्तर पर आंख बंद करके अपने ईश्वर से प्रार्थना करना चाहिए कि आज का मेरा दिन मेरे पति या मेरी पत्नी के साथ बहुत खुशनुमा बिता है हम दोनों ने जिंदगी का यह दिन सबसे अच्छा व्यतीत किया है।
  • छोटी-छोटी बातों पर होने वाले विवादों को रोकने के लिए केवल सोमवार अथवा शनिवार के दिन गेंहू पिसवाते समय सौ ग्राम काले चने भी मिलवाएं। इसकी रोटी खाने से भी कलह दूर होता है।
  • रविवार रात में अपने सिरहाने स्टील या चांदी के एक गिलास में गाय का थोड़ा सा कच्चा दूध रखें और प्रात:काल उसे बबूल के पेड़ पर चढ़ा दें।
  • प्रतिदिन नीम के वृक्ष पर जल चढ़ाएं ऐसा करने से रिलेशन मजबूत होंगे।

वास्तु शास्त्र के अनुसार संबंध अच्छे और मधुर बनाने के टिप्स-

  • पति-पत्नी का मुस्कुराती हुआ जोड़ी में पिक्चर बेडरूम में दक्षिण-पश्चिम के हिस्से में लगाएं।
  • यदि घर के दक्षिण पश्चिम में टॉयलेट एंटी क्लॉक वाइज सीढ़ियां और किचन बना हुआ है तो यह सौ प्रतिशत रिलेशन की समस्या उत्पन्न करता है इसके लिए आप किसी अच्छे वास्तु विशेषज्ञ को अपने घर का नक्शा दिखाएं।
  • बेडरूम में हल्के कलर्स का इस्तेमाल करें जैसे कि पिंक और सफेद।
  • बेडरूम के बिस्तर पर बैठ कर कभी नाश्ता या भोजन ना करें।

मंत्र चिकित्सा के माध्यम से पति पत्नी के संबंध मधुर बनाने के 100% लाभकारी उपाय-

  • पति-पत्नी के बीच अनबन को दूर करने के यह मंत्र बहुत लाभदायक है प्रतिदिन तीन माला का जप करें।
  • ॐ नम: संभवाय च मयो भवाय च नम:शंकराय च मयस्कराय च नम: शिवाय च शिवतराय च।।

द्वितीय मंत्र उपाय-

शास्त्र कहते हैं यदि यह जप विधि-विधान से किया जाए तो पति-पत्नी के बीच कभी अनबन नहीं होती साथ ही प्रेम भी बढ़ता है। इस मंत्र से भी बहुत से लोगों के बीच मधुर संबंध स्थापित हुए हैं।

अक्ष्यौ नौ मधुसंकाशे अनीकं नौ समंजनम्।अंत: कृणुष्व मां ह्रदि मन इन्नौ सहासति।।

सुबह उठकर स्नान के बाद किसी एकांत जगह आसन बिछा लें और पूर्व दिशा की ओर मुंह करके बैठें। सामने मां पार्वती की प्रतिमा या चित्र रखें और श्रद्धापूर्वक उनकी स्तुति करते हुए 21 बार ऊपर लिखे मंत्र का जाप करें।

तृतीय मंत्र उपाय-

वैवाहिक सुख की प्राप्ति और अनबन के निवारण के लिए सुबह स्नानादि से निवृत्त होकर भगवती दुर्गा की प्रतिमा के सामने दीया और अगरबत्ती जलाकर पुष्प अर्पित करें। अब नीचे लिखे मंत्र का 108 बार जाप करें। ज्योतिषी औऱ पंडितों का मानना है कि ऐसा करने से कुल 21 दिनों में ही सुख-शांति का वातारण व्याप्त हो जाएगा-

मंत्र-

धां धीं धूं धूर्जटे! पत्नी वां वीं वूं वाग्धीश्वरि।क्रां क्रीं क्रूं कालिका देवि! शांत शीं शूं शुभं कुरू।।

नोट- तीनों मंत्रों की अपनी-अपनी विशेषता है और इन मंत्रों से हजारों लाखों लोगों के जीवन में बदलाव आया है एक बार आप भी आजमा कर देख सकते हैं।

 
 
 
Comments:
 
 
 
 
 
 
Free Numerology
Enter Your Name :
Enter Your Date of Birth :
Copyright © MyGuru.in. All Rights Reserved.
Site By rpgwebsolutions.com