Home » Lal Kitab Remedies » शनिदेव को प्रसन्न करने हेतु उपाय

शनिदेव को प्रसन्न करने हेतु उपाय

ब्रह्म पुराण के 118 वें अध्याय में शनिदेव कहते हैं- मेरे दिन अर्थात् शनिवार को जो मनुष्य नियमित रूप से पीपल के वृक्ष का स्पर्श करेंगे, उनके सब कार्य सिद्ध होंगे तथा मुझसे उनको कोई पीड़ा नहीं होगी। जो शनिवार को प्रातःकाल उठकर पीपल के वृक्ष का स्पर्श करेंगे, उन्हें ग्रहजन्य पीड़ा नहीं होगी। (ब्रह्म पुराण)

शनिवार के दिन पीपल के वृक्ष का दोनों हाथों से स्पर्श करते हुए ॐ नमः शिवाय। का 108 बार जप करने से दुःख, कठिनाई एवं ग्रहदोषों का प्रभाव शांत हो जाता है। (ब्रह्म पुराण)

हर शनिवार को पीपल की जड़ में जल चढ़ाने और दीपक जलाने से अनेक प्रकार के कष्टों का निवारण होता है ।(पद्म पुराण)

 
 
 
Comments:
 
 
 
 
UPCOMING EVENTS
  Bhanu Saptami, 2 October 2022, Sunday
  Durga Ashtami, 3 October 2022, Monday
  Durga Navami, 4 October 2022, Tuesday
  Vijaya Dashami, 5 October 2022, Wednesday
  Papankusha Ekadashi Vrat, 6 October 2022, Thursday
  Papankusha Ekadashi, 6 October 2022, Thursday
 
 
Free Numerology
Enter Your Name :
Enter Your Date of Birth :
Copyright © MyGuru.in. All Rights Reserved.
Site By rpgwebsolutions.com